कुख्यात लुटेरे को गिरफ्तार करने के लिए बेंगलुरु पुलिस ने चलाईं गोलियां
Wednesday, 02 December 2020 10:40

  • Print
  • Email

बेंगलुरु: बेंगलुरु पुलिस द्वारा एक कांस्टेबल पर चाकू से हमला करने की कोशिश करने वाले कुख्यात लुटेरे पर गोली चलाने की घटना सामने आई है। पुलिस के अनुसार, लुटेरे की पहचान बेंगलुरु के कुलीनगर के रहने वाले अल्लाबख्श उर्फ अनबू के रूप में हुई है।

पुलिस ने मंगलवार को कहा कि अनबू तीन सदस्यीय डाकू गिरोह का हिस्सा है और अपने तेज और बुरे व्यवहार के लिए जाना जाता है।

पुलिस ने कहा, "वह कई दिनों से हो रहे 10 डकैतियों में शामिल है। उसके काम करने का ढंग बहुत खतरनाक है। वह अपने शिकार के सिर पर या नाक पर लोहे की छड़ से वार करता है और उसके बाद वह घटनास्थल से भागने से पहले उनका सामान छीन लेता है।"

पुलिस ने कहा कि अनबू ने पिछले हफ्ते बेंगलुरु में निविदा नारियल उतारने आए एक लॉरी चालक पर हमला किया था।

पुलिस अधिकारी ने कहा, "25 नवंबर को लॉरी चालक सिद्दाराजू निविदा नारियल उतारने के बाद शौच के लिए लग्गेरे रिंग रोड पर रुक गया और निविदा नारियल पीने के लिए अपने साथी के साथ दोपहिए पर आए अनबू ने उसे अकेला देखकर लोहे के रोड से मारा। उससे 30 हजार रुपये की नकदी और मोबाइल फोन लेकर भागने से पहले उसे चाकू मार दिया।"

इस बारे में शिकायत दर्ज करने के बाद पुलिस ने सबसे पहले उसके गिरोह के सदस्य अनवर को पकड़ा जिसने न सिर्फ अनबू के काम करने के तरीके के बारे में पूरी जानकारी दी, बल्कि कुलीनगर में उसके ठिकाने का भी पता बताया।

पुलिस ने आगे कहा, "जब हम वहां पहुंचे तो अनबू अपने ठिकाने को बदलने की फिराक में था, उसने हमारे पुलिस कांस्टेबल और सर्च टीम के सदस्य अभिषेक पर चाकू से हमला कर दिया।"

इस दौरान पुलिस उप-निरीक्षक जोगनान्नवर ने पहले उसे चेतावनी देने के लिए हवा में फायरिंग की, लेकिन जब अनबू नहीं माना तो उसे दाहिने घुटने पर गोली चलाई।

पुलिस ने कहा कि वे अनबू और अनवर को गिरफ्तार करने में सफल रहे हैं, जबकि वे अबलू का पता लगा रहे हैं।

--आईएएनएस

एमएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss